भूपेश समर्थक नीरज पांडे छत्तीसगढ़ एनएसयूआई के अध्यक्ष नियुक्त हुए

एजाज ढेबर,संजीव शुक्ला,देवेंद्र,आकाश शर्मा के बाद नीरज के हाथ आई छःग एनएसयूआई की कमान

भूपेश समर्थक नीरज पांडे छत्तीसगढ़ एनएसयूआई के अध्यक्ष नियुक्त हुए

लगभग 7 वर्षो के अंतराल के बाद एनएसयूआई में नए अध्यक्ष की ताजपोशी हो गई है ।

छःग एनएसयूआई में नीरज पांडे का मनोनयन हुआ है।
मनेन्द्रगढ़ निवासी नीरज निवर्तमान अध्यक्ष आकाश शर्मा के खास सिपहसालार माने जाते हैं.इस नियुक्ति के साथ छःग में राहुल फार्मूले के तहत एनएसयूआई में संगठन चुनाव की कवायद को विराम दे दिया गया है।3 साल पहले चुनाव हेतु चलाये गए सदस्यता अभियान में बढ़चढ़ कर भाग लेने वाले युवा नेताओ को इस मनोनयन से धक्का लगा है।

हाल ही में 1 दर्जन युवा नेताओ को इंटरव्यू के लिए दिल्ली बुलाया गया था।छःग के बिलासपुर से तनमित छाबड़ा,आदिल खैरानी रायपुर से भावेश शुक्ला अमित शर्मा दुर्ग से आशीष यादव,महासमुंद से निखिल कांत साहू कांकेर से चमन साहू तथा सदस्यता अभियान में राज्य में सर्वाधिक सदस्य बनाने वाले रायपुर के ही नवापारा राजिम के सेठ फूलचंद महाविद्यालय के छात्रसंघ के निर्वाचित अध्यक्ष पूर्णानंद साहू साक्षात्कार देने दिल्ली गए हुए थे। बिलासपुर के छात्र नेता तनमित छाबड़ा और आदिल खैरानी का नाम भी प्रदेश अध्यक्ष पद पर चर्चा में था यह दोनों ही नेता बिलासपुर से छत्तीसगढ़ एनएसयूआई में बहुत सक्रिय नाम है एनएसयूआई के सदस्यता अभियान में भी इन दोनों ने बढ़चढ़ कर भाग लिया था।प्रदेश समिति में इन्हें महत्वपूर्ण स्थान दिया जा सकता है।

छःग में किसी ओबीसी वर्ग के छात्र नेता को इस पद पर मनोनीत किया जाएगा ऐसी भी चर्चा थी परंतु नीरज पांडे की नियुक्ति के साथ अब यह बहुत स्पष्ट हो गया है कि आगामी महीनों में होने वाले फेरबदल में छत्तीसगढ़ युवा कांग्रेस की कमान किसी सामान्य वर्ग के युवा नेता के हाथों नहीं आएगी ,इस मनोनयन के साथ ही युवा कांग्रेस अध्यक्ष पद पर जातीय समीकरण बेहद मायने रखेगा यह भी एक तरह से क्लियर हो गया है।

वहीं नीरज पांडे की नियुक्ति से असहमत युवा नेताओं की अब तक कोई प्रतिक्रिया खुलकर सामने नहीं आई है।

नीरज आकाश शर्मा गुट की ओर से रायपुर के टेक्निकल कॉलेजों में एनएसयूआई सँगठन से जुड़ी गतिविधियों का वर्षो से संचालन करते आ रहे थे।
खबर है कि आकाश शर्मा गुट के ही अध्यक्ष पद के प्रबल दावेदार रहे अमित शर्मा को गुटीय संतुलन बनाये रखने के लिए कार्यकारी अध्यक्ष बनाया जा सकता है। अमित रायपुर जिला एनएसयूआई के अध्यक्ष हैं तथा जमीनी स्तर पर काफी सक्रिय माने जाते हैं।


सूत्रों के अनुसार कुछ सशक्त दावेदारों को एनएसयूआई की राष्ट्रीय समिति में लिया जा सकता है इनमे भावेश शुक्ला हनी बग्गा सहित पूर्णानंद साहू के नाम की भी चर्चा है।पूर्णानंद साहू के बारे में बताया जाता है कि उन्होंने ई मेल के जरिए राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुंदन को छत्तीसगढ़ एनएसयूआई में चुनाव कराने की मांग की थी तथा राज्य संगठन में किसी भी मनोनीत पद को लेने से इनकार कर दिया था।
वही भावेश शुक्ला के समर्थकों के अनुसार भावेश को एनएसयूआई की राष्ट्रीय समिति में बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है।।


गुटीय राजनीत के नजरिया से देखा जाए तो छत्तीसगढ़ युवा कांग्रेस जहां टीएस सिंहदेव खेमे के पास है वहीं एनएसयूआई में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के समर्थकों ने अपना दबदबा बरकरार रखा है।

नीरज पांडे की नियुक्ति पर राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं टी एस सिंह देव ने सोशल मीडिया के माध्यम से उन्हें अपनी बधाई दी है।